वो योनि में जैसे ही डालते, सेक्स खत्म हो जाता है

Edited by Super Admin, Updated: 17 Jun, 2024 10:48 AM (IST)

मैं चाहती हूं कि वो मुझे पहले गर्म करे। मेरी योनी को सहलाए, मेरे पसीने छूट जाएं। पर क्या करूं...वो बस अपना प्राइवेट पार्ट मेरी योनि में डाल देते हैं और कुछ समय बाद हमारा सेक्स खत्म हो जाता है। मैं बस आंहें भरती हूं...यह दर्द 22 साल की बिहार की एक नवविवाहित महिला अनीता का है, जिसने अपनी सेक्स लाइफ का अनुभव हमारे साथ शेयर किया…आइए जानें क्या कहती हैं अनीता... 

बर्थडे पर दोस्तों से मिला वाइब्रेटर गिफ्ट 

मैं जब 19 साल की थी, तब मेरे दोस्त मुझे अपनी सेक्स लाइफ से जुड़ी बातें सुनाया करते थे, पर मैंने कभी सेक्स एक्पीरियंस किसी के साथ शेयर नहीं किया था, लेकिन मेरे 19वें बर्थडे पर मेरे दोस्तों ने मुझे वाइब्रेटर गिफ्ट कर दिया। मुझे नहीं पता था कि उसे कैसे इस्तेमाल करते हैं। फिर मैं थोड़ा गूगल पर इसके बारे में जाना और अपनी योनि में वाइब्रेटर को डाल लिया। अगर मैं सच कहूं तो पहले बड़ा अजीब-सा लगा, लेकिन फिर धीरे-धीरे मीठा-मीठा दर्द उठने लगा था और जब मैं गर्म हो गई तो फिर मेरा हाथ मेरी योनी तक पहुंच गए। मैं अपनी योनी को अपने हाथों से सहला रही थी। ये पहला ऐसा समय था जब मैंने सेक्स को महसूस किया था। धीरे-धीरे मैं अपने अंगों को एक्सपलोर करने लगी और अपने शरीर को करीब से जानने लगी। कुछ समय बाद एक दिन मुझे अपने बदन के एक ऐसे हिस्से के बारे में पता चला, जिसे क्लिटोरिस नाम से पुकारते हैं। वो मेरे लिए ऐसी जगह है, जहां सबसे ज्यादा आनंद महसूस करती हूं लेकिन अब मेरे लाइफ से ये खुशी चली गई है क्योंकि मेरी शादी हो गई है। आप ये सोच रहे होंगे कि शादी के बाद तो खूब सेक्स चलता होगा, पर दोस्तों ऐसा नहीं है। 

सेक्स शुरू तो करती हूं लेकिन तब ही... 

जब मेरी शादी हुई तो मैं 22 साल की थी। हर लड़की की तरह मैं भी रोज चुदवाने के लिए बेताब हो रही थी, लेकिन यकीन करो मेरी खुशी कुछ दिन में ही गायब हो गई। वजह यह है कि मेरे पति उम्र में मेरे से 10 साल बड़े हैं। इस कारण हम दोनों के बीच वो ताल मेल नहीं है, जो एक कपल में होना चाहिए। वो मेरे अंदर वो आग नहीं पैदा कर सकते जो एक 25-27 साल का लड़का पैदा करता है। मैं अपनी इच्छाएं उनसे कह भी नहीं पाती क्योंकि उम्र का इतना लंबा फासला होने के कारण अच्छा नहीं लगता उनसे ये सब कहना। मेरा वाइब्रेटर भी मेरे साथ नहीं है। रात को हमारे बीच सेक्स तो होता है लेकिन वो मेरे शरीर को नहीं समझ पा रहे, जिस कारण मुझे जो ओर्गास्म वाइब्रेटर से महसूस होता था, वो अब नहीं होता। 

वो योनि में जैसे ही डालते, सेक्स खत्म... 

सेक्स लाइफ मेरी कमजोर सी पड़ गई क्योंकि वो बस अपना लिंग मेरी योनि में डाल देते हैं और कुछ समय बाद हमारा सेक्स खत्म हो जाता है। लेकिन मैं मैं चाहती हूं कि वो मुझे सहलाए, मेरी योनि को सहलाए, मेरे स्तनों को चूमें लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता।काश, ऐसा होता कि मेरे पति की उम्र ज्यादा नहीं होती, तब शायद मेरी जरूरतें और इच्छाएं समझ पाते और शायद मैं भी खुलकर बोल पाती कि मेरी जवानी निकल रही है इसमें आग भरो। लेकिन बेड पर केवल उनकी ही चलती है। वो मेरे गर्दन के निचले भाग को भी नहीं चूमते .जबकि मेरी दोस्त ने बताया था कि गर्दन पर चुम्बन दें तो एक गजब और अलग सी उत्तेजना महसूस होती है। शायद, मुझे ये उत्तेजना कभी महसूस नहीं होगी। जब तक लोग सेक्स का मतलब लिंग और योनि के मिलने को कहेंगे, तब तक लोग सेक्स को समझ नहीं पायेंगे। सेक्स ठीक इसके विपरीत है। अच्छे सेक्स के लिए दो लोगों के मन, शरीर और आत्मा का मिलन होना बहुत जरूरी है। तभी दोनों को आनंद मिलेगा। दोनों पार्टनर को एक-दूसरे की इच्छाओं का ख्याल रखना चाहिए। ऐसा नहीं करना चाहिए कि अपनी आग बुझाई और सो गए।

Stay updated by signing up for newsletter